पिछला

अनुवाद कैसे करें «1 16 किलो चीनी के कितने पैकेट चीनी के 13 4 किलो से बनाया जा सकता - 1 16 kg of sugar, how many packets of sugar 13 4 kg can be made»



अनुवाद

1 16 kg of sugar, how many packets of sugar 13 4 kg can be made
टेलीविजन कार्यक्रम
                                               

टेलीविजन कार्यक्रम

टेलीविजन कार्यक्रम किसी विज्ञापन, ट्रेलर या दर्शकों के लिए आकर्षण के हेतु न होने वाली सामग्री के किसी अन्य खंड के अलावा, ओवर-द-एयर, केबल टेलीविजन या इंटरनेट टेलीविजन पर प्रसारित करने के लिए सम्बन्धित प्रस्तुतियों की एक शृंखला हैं। शायद ही कभी यह एकल प्रस्तुति हो सकती है, जिसे टीवी प्रोग्राम कहा जाता है। किसी टेलीविजन कार्यक्रम के सीमित संख्याओं के प्रकरणों को एक मिनीसीरीज़ लघुशृंखला या सीरियल धारावाहिक या सीमित शृंखला कहा जा सकता है। किसी एक-बार प्रसारण को "विशेष" या ख़ासकर यूके में एक "विशेष प्रकरण" कहा जा सकता हैं।

                                               

टेलिविज़न पारिभाषिकी

                                               

भारतीय टेलीविजन पुरस्कार कार्यक्रम

                                               

अमेरिकी टेलिविज़न कार्यक्रम

                                               

ब्रिटिश टेलिविज़न कार्यक्रम

                                               

कोमा बेरेनाइसीस तारामंडल

                                               

पाकिस्तान में रेल सुरंगें

                                               

नाथाजी और यामाजी

नाथाजी पटेल और यामाजी पटले भारत मे ब्रिटिश राज के दौरान चन्दप गांव जिसे चांडप भी बोला/लिखा जाता है के कोली पटेल थे। यह गांव उनके अधीन था। नाथाजी और यामाजी ने १८५७ के भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन मे अंग्रेजों के खिलाफ हथियार उठाए थे। नाथाजी और यामाजी हर वर्ष बड़ौदा रियासत को हर वर्ष कुछ कर अदा करते थे यानीकी चन्दप जागीर के रुप में बड़ौदा रियासत के अधीन थी।

                                               

लुईजीपीयो टेस्सीटोरी

लुइगी पियो टेसिटोरी एक इतालवी इंडोलॉजिस्ट और भाषाविद थे। टेसिटोरी का जन्म 13 दिसंबर 1887 को उडीन के उत्तर-पूर्वी इतालवी शहर में हुआ था एवं गुइल्डे टेसिटोरी और लुगिया रोजा वेनियर रोमानो के घर में हुआ था। उन्होंने यूनिवर्सिटी जाने से पहले Liceo Classico Jacopo Stellini में पढ़ाई की। उन्होंने फ्लोरेंस विश्वविद्यालय में अध्ययन किया, 1910 में मानविकी में अपनी डिग्री प्राप्त की। उनके बारे में कहा जाता है कि वे एक शांत छात्र थे और जब उन्होंने संस्कृत, पाली और प्राकृत का अध्ययन किया, तो उनके सहपाठियों ने उन्हें भारतीय लुई का उपनाम दिया। उत्तर भारतीय स्थानीय भाषाओं में एक अभिरुचि विकसित करने के बाद, टेसिटोरी ने राजस्थान में एक नियुक्ति प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत की। उन्होंने 1913 में इंडिया ऑफिस में आवेदन किया; यह समझते हुए कि नौकरी की पेशकश की कोई गारंटी नहीं थी, उन्होंने भारतीय राजकुमारों से भी संपर्क किया जो उन्हें भाषाई कार्य के लिए नियुक्त कर सकते थे। इस समय के दौरान, उन्होंने एक जैन शिक्षक, विजया धर्म सूरी 1868-1923 के साथ संपर्क स्थापित किया, जिनके साथ उनका घनिष्ठ व्यक्तिगत और व्यावसायिक संबंध था। सूरी जैन साहित्य के अपने गहन ज्ञान के लिए जाने जाते थे, और इसके कई कार्यों की पुनर्प्राप्ति और संरक्षण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। जैन साहित्य और प्रथाओं पर अपने निर्वासन की आलोचना के लिए टेसिटोरी ने उनसे अपील की। सूरी ने उन्हें राजस्थान के एक जैन स्कूल में एक पद की पेशकश की, लेकिन एक जैन समुदाय में रहने वाले एक ईसाई की नाजुक स्थिति के बारे में बात करते हुए, टेसिटोरी ने इंडिया ऑफिस से अपने आवेदन के लिए स्वीकृति प्राप्त की, और 1914 में भारत आने की तैयारी की। भारत में, टेसिटोरी ने अपने भाषाई सर्वेक्षण और पुरातात्विक सर्वेक्षण किये और इंडोलॉजी को मौलिक महत्व की खोजों को बनाया। 1919 में उन्हें खबर मिली कि उनकी माँ गंभीर रूप से बीमार थीं और वह 17 अप्रैल को इटली के लिए रवाना हुए एवं जब वह पहुंचे, तब तक वह मर चुकी थी। नवंबर में भारत लौटने से पहले वह कई महीनों तक इटली में रहे। दुर्भाग्य से, जहाज पर लौटते समय गंभीर रूप से बीमार पड़ गया। 22 नवंबर 1919 को बीकानेर में उनका निधन हो गया।

जिनसेंग
                                               

जिनसेंग

जिनसेंग एक स्वास्थ्यवर्धक और यौन शक्तिवर्धक दबाई के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। जबकि यह पूरी दुनिया में ज्यादातर पुरुष शक्तिवर्धक के लिए उपयोग किया जाता रहा है। यह पुरुषों में टेस्टोस्टरोन की वृद्धि करता है एवं प्रजनन क्षमता को बढ़ाता है और शरीरिक और मानसिक थकान को जल्दी को दूर करता है। इसका प्रयोग आयर्वेदिक औषधी के अलावा एलोपैथिक दवाओं में भी किया जाता है और आयर्वेद में इसका इस्तेमाल प्राचीनकाल से किया जा रहा है। जिनसेंग की जड़ को औषधी माना जाता है जिसे कैप्सूूूल और पाउडर के रूप में खाया जाता है। यह ज्यादातर एशियाई देशो जैसे चीन, कोरिया, नेपाल और वियतनाम में ज्यादा पाया जाता है। जिनसेंग ज्यादातर पेनेक्स कुल के पौधों की जड़ को जिनसेंग के लिए पूरी दुनिया में व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाता हैं। यह पेनेक्स जिनसेंग चीन और कोरिया में मुख्य रूप से पाया जाता है। पेनेक्स जिनसेंग हज़ारों सालों से टॉनिक के रूप में इस्तेमाल किया जाता रहा है। जिनसेंग मुख्यता दो प्रकार के होते है एक सफ़ेद और दूसरा लाल। सफ़ेद जिनसेंग को धूप में सुखाकर और लाल जिनसेंग को भांप में पकाकर शुद्ध किया जाता है। जिनसेंग के जिन पौधो की उम्र 5 - 6 साल होती है उन ही पौधों को औषधी ले लिए ज्यादा योग्य माना जाता है।

Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →